वापस नहीं होगी “अग्निपथ योजना” – जानिए क्या हैं अब तक के अपडेट्स ?

Agneepath Yojana News Updates : नमस्कार दोस्तों जैसा की आप सभी को पता है, कि हाल ही में केंद्र सरकार की Agneepath Yojana Protest में भारत के विभिन्न राज्यों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं और इसी बीच हाल ही में रक्षा मंत्रालय द्वारा एक प्रेस कॉन्फ्रेंस रखी गई जिसमें उन्हें साफ तौर पर कहा की अग्निपथ योजना को वापस नहीं लिया जायेगा।

वह सभी भर्तियां इसी योजना के तहत होंगी। वह लगभग 25 हजार अग्निवीरों का पहला बैच दिसंबर 2022 में Army Join कर लेगा।

Agneepath Yojana News Updates
Agneepath Yojana News Updates

तो आइए दोस्तों जानते विस्तार से की Agneepath Yojana News Updates के बारें में।

Agneepath Yojana News Updates

सेना के द्वारा हाल ही में महत्वपूर्ण बयान यह दिया गया कि यदि कोई व्यक्ति उपद्रव यानी की अग्निपथ योजना के विरोध में छात्रों को भड़काना, प्रदर्शन करना व तोड़फोड़ करता हुआ पाया जाता है, तो वह सेना में शामिल नहीं हो पायेगा क्योंकि सेना में शामिल होने के लिए सबसे पहले पुलिस वेरिफिकेशन करवाया जायेगा।

उन्होंने यह भी कहा की सशस्त्र बलों में अनुशासनहीन लोगों के लिए कोई जगह नहीं है। सभी को लिखित में देना होगा कि वे किसी भी तरह से इस योजना के विरोध प्रदर्शन में शामिल नहीं थे।

Agneepath Yojana Updates

अग्नीपथ योजना को वापस ना लेने का जो तर्क यह बताया गया वह यह कि अभी सेना की औसत उम्र 30 से अधिक है, और इस औसत उम्र को कम करने की सिफारिश लंबे समय से चल रही है। ऐसी स्थिति में अग्निपथ योजना के तहत जो अभ्यर्थी लिए जाएंगे जो अग्निवीर बनेंगे उनकी औसत उम्र 26 साल तक रहेगी।

औसत उम्र 26 साल तक रखने का कारण यह बताया गया कि कि जो ज्यादा उम्र के सैनिक हैं उन्हें कैजुअल्टी बहुत ज्यादा होती है, ऐसी स्थिति में एक आंकड़ा निकल कर आया है, कि लगभग 17500 सैनिक ऐसे हैं जो की हर साल  रिटायरमेंट के लिए आवेदन करते हैं।

ऐसे में एक ओर जॉब के लिए आवेदन किए जा रहे हैं, वहीं इतनी बड़ी संख्या रिटायरमेंट के लिए क्यों आवेदन कर रही है, ऐसी स्थिति में युवाओं को इस योजना के तहत भर्ती किया जा रहा है ताकि वह जोश और जज्बे के साथ अपनी सेवा दें सकें।

पुलिस वेरिफिकेशन जरूर करवाया जायेगा

बताया गया कि पुलिस वेरिफिकेशन शत-प्रतिशत करवाया जायेगा। यदि किसी भी व्यक्ति के खिलाफ एफ आई आर दर्ज होती है तो वह सेना ज्वाइन नहीं कर पायेगा।

लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी ने कहा की इंडियन आर्मी की सबसे बड़ी फाउंडेशन Discipline है, डिसिप्लिन के अंतर्गत ही हम सारे काम करते हैं।

यह भी पढ़ें – Agneepath Yojana – कैसे होगी भर्ती ? जानिए ट्रेनिंग, सैलरी, पेंशन के बारें में

4 साल बाद अग्निवीरों के लिए क्या योजना

4 साल बाद सेना क्या दे रही है – तब इन्होंने इस पर कहा की मिनिस्ट्री ऑफ होम अफेयर्स ने पहले ही कह दिया है, कि हम 10% आरक्षण सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्स में देंगे।

वहीं आयु सीमा में छूट पहले बैंच को 3 साल और 5 साल की दी जायेगी।

तटरक्षक बल, रक्षा नागरिकों और 16 x DPSUs में भी 10% आरक्षण। वह आयु सीमा में 3 वर्ष और 5 वर्ष की छूट (उम्र में बदलाव कोरोना काल में लगे लॉकडाउन के कारण दिया गए)

• Nios ने कहा की वह भी डिग्री देगा। 12वीं पास के लिए डिग्री प्रोग्राम: तौर-तरीकों पर काम किया जा रहा है।

• इसके अलावा ब्रिजिंग कोर्स व अन्य अग्निवीर कौशल सर्टिफिकेट दिए जाएंगे

सेवा निधि पैकेज दिया जायेगा। जो की लगभग 12 लाख रुपए का होगा।

• देश सेवा के लिए सर्वोच्च बलिदान: यदि कोई व्यक्ति अग्निवीर होते हुए शहीद हो जाता है तो उसे सारे सम्मान ही दिए जाएंगे जो कि एक भारतीय सैनिक को दिए जाते है।

Agneepath Yojana Bharti News Updates 

अग्निपथ योजना के तहत होने वाली भर्ती की शुरुआत हम 46 से 50 हजार से कर रहे हैं, लेकिन यह आने वाले समय में एक लाख तक पहुंचेगी।

उन्होंने यह भी कहा कि दिसंबर के पहले सप्ताह में अग्निवीरों का पहला बैंच आ जायेगा जो कि लगभग 25 हजार का होगा। वहीं दूसरा बैच फरवरी 2023 में आएगा जो कि इस भर्ती बैंच को लगभग 40,000 का बनायेगा

वह Navy मे भी अग्निवीरों का पहला बैंच नवंबर 21 से शुरू हो जायेगा। इसमें महिलाओं को भी शामिल किया जाएगा।

प्रेस कॉन्फ्रेंस की अहम बातें

Agneepath Yojana News Updates

• “लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी ने कहा- तीनों सेना प्रमुख और CDS ने मिलकर दुनिया के सभी देशों की सेनाओं की औसत उम्र का पता लगाया गया था। इससे यह निष्कर्ष निकला की हमें सेना में युवा सैनिक चाहिए। हमें जूनून जज्बे के साथ साथ होश की भी जरूरत है।

• सेना में बदलाव का प्रोसेस 1989 से चल रही है। सेना की औसत उम्र 32 साल थी, ओर औसत उम्र 26 पर लाना हमारा लक्ष्य था।

• जिस दिन अग्निपथ की घोषणा हुई थी उस दिन 2 ऐलान किए गए पहला यह कि देश भर में साढ़े दस लाख नौकरियां की भर्ती होगी। और 46 हजार वेकेंसी सेना में अग्निवीर के रूप में भर्ती होगी। इस सेना भर्ती योजना के तहत उम्र में बदलाव कोरोना के कारण किए गए है।

• अगले 4-5 वर्षों में हमारे सैनिकों की संख्या 50 से 60 हजार होगी और बाद में बढ़कर 90 हजार से 1 लाख हो जायेगी। हमने योजना का विश्लेषण करने और बुनियादी ढांचा क्षमता बढ़ाने के लिए पहली भर्ती 46,000 से शुरुआत की है।

• आयु सीमा या अन्य बदलाव जो की घोषणा के बाद हुए वह किसी डर से नहीं बल्कि ये सब पहले से ही तैयार थे।

दिसंबर के पहले सप्ताह तक हमें 25,000 अग्निवीरों का पहला बैच मिलेगा और दूसरा बैच फरवरी 2023 के आसपास शामिल किया जाएगा, जिससे यह 40 हजार की भर्ती पूरी होगी।

• इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में सैन्य मामलों के विभाग के अतिरिक्त सचिव लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी, भारतीय सेना के एडजुटेंट जनरल लेफ्टिनेंट जनरल बंसी पोनप्पा, भारतीय नौसेना के प्रमुख वाइस एडमिरल दिनेश त्रिपाठी और भारतीय वायु सेना के कार्मिक प्रभारी एयर मार्शल सूरज झा भी मौजूद थे।

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment