India Population Total : भारत दुनिया में सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश बना, चीन को छोड़ा पीछे?

India Population Total 2023:- भारत दुनिया में अब सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला देश बन गया है, साल की शुरूआत में ही ग्लोबल एक्सपर्ट्स ने अनुमान लगाया था कि साल 2023 में भारत देश दुनिया का सबसे जनसंख्या वाला देश बन जायेगा।

अब यूनाइटेड नेशंस पॉपुलेशन फंड की जारी रिपोर्ट ने यह मुहर लगा दी है, की भारत दुनिया का सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश बन गया है UN की रिपोर्ट के अनुसार एक साल में भारत की जनसंख्या में 1.56 फीसदी वृद्धि हुई है। भारत की जनसंख्या अब चीन से करीब 30 लाख से अधिक हो गई हैं। अगर हम जनसंख्या के आंकड़ों की बात करें तो, वर्तमान समय में भारत की कुल जनसंख्या 142 करोड़ 86 लाख हो गई है वहीं चीन की कुल जनसंख्या 142 करोड़ 57 लाख है…!

india population total world most populous nation

पहली बार भारत की जनसंख्या चीन से अधिक

साल 1950 से UN दुनिया भर के देशों की जनसंख्या से जुड़ी जानकारी जारी कर रहा है। तब से वर्तमान तक ये पहला मौका है जब भारत ने जनसंख्या के मामले में चीन को पछाड़ दिया है।

पिछले साल जारी एक रिपोर्ट अनुसार ये सामने आया कि पिछले 6 दशकों में पहली बार चीन की जनसंख्या में कमी दर्ज की गई है। वहां बच्चे पैदा करने की दर में भी कमी देखी गई।

अगर हम भारत और चीन लोगों के जीवन की औसत उम्र की बात करें तो चीन भारत से बेहतर स्थिति में है। चीन में पुरुषों व महिलाओं की औसत उम्र क्रमशः 76 वर्ष व 82 वर्ष दर्ज की गई है। वहीं भारत में पुरुषों व महिलाओं औसत उम्र 74 वर्ष व 71 वर्ष दर्ज की गई है।

India Population Total 1950 to 2050

भारत और चीन जनसंख्या में अंतर 1800 से 1950 तक

साल 2022 में जारी एक रिपोर्ट के अनुसार भारत और चीन की जनसंख्या अनुमान सामने आए थे। देखिए भारत और चीन जनसंख्या में अंतर 1800 से 1950 तक…!

• 1800 ईस्वी जनसंख्या चीन 33 करोड़, भारत 20 करोड़

• 1850 ईस्वी जनसंख्या चीन 40.9 करोड़, भारत 23.5 करोड़

• 1900 ईस्वी जनसंख्या चीन 40.1 करोड़, भारत 29.1 करोड़

• 1950 जनसंख्या चीन 54.3 करोड़, भारत 35.7 करोड़

• 2000 ईस्वी जनसंख्या चीन 126 करोड़, भारत 106 करोड़

• 2023* ईस्वी चीन 142 करोड़, भारत 143 करोड़

• 2050* ईस्वी जनसंख्या चीन 131 करोड़, भारत 167 करोड़

• 2100* ईस्वी चीन 76.6 करोड़, भारत 153 करोड़

भारत की जनसंख्या से जुड़े रोचक तथ्य

• साल 1881 में पहली बार भारत देश में जनगणना हुई थी। उस समय भारत की जनसंख्या करीब 25.38 करोड़ थी। इसके बाद से ही भारत में 10 साल के अंतराल पर जनगणना होती आ रही है…!

• जनगणना अधिनियम, साल 1948 के प्रावधानों के तहत जनगणना की जाती है। इस अधिनियम के लिए बिल को भारत के पूर्व गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल ने पेश किया था।

• साल 1881 से 1931 तक की जनगणना में जातियों की भी गणना की गई थी। साल 1941 में भी जातिगत जनगणना हुई, लेकिन आंकड़े जारी नहीं किये गये।

• फरवरी 2011 में 15वीं बार . जनगणना हुई थी। तब जनसंख्या 121 करोड़ से अधिक थी। आंकड़ों के अनुसार, देश में 51.54 प्रतिशत पुरुष व 48.46 प्रतिशत महिलाएं हैं।

• साल 2011 की जनगणना 16 भाषाओं में की गई थी। 2001 से 2011 के बीच भारत की आबादी 18 फीसदी के आसपास वृद्धि हुई थी। वहीं उत्तर प्रदेश भारत में सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला राज्य है।

• भारत में अगली जनगणना साल 2021 में होनी थी लेकिन ये कोरोना कारण नहीं हो पाई। इसके बाद अब इसे अनिश्चित काल के लिए टाल दिया गया था। और अबतक जनगणना नही हो पाई है।

• संयुक्त राष्ट्र के अनुमान अनुसार साल 2050 तक चीन की जनसंख्या 131 करोड़ तो वहीं भारत की जनसंख्या 166 करोड़ आंकी गई है। इन आंकड़ों के अनुसार, तब मुंबई की आबादी करीब 4.24 करोड़ हो जायेगी। और ये दुनिया का सबसे व्यस्त शहर बन जायेगा…!

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment

You cannot copy content of this page