Sanket Mahadev Sargar Biography in Hindi | संकेत महादेव सरगर की जीवनी

नमस्कार दोस्तों, अगर आप Sanket Mahadev Sargar Biography खोज कर यहां आये हैं, तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं। क्योंकि आज के लेख हम आपको संकेत महादेव सरगर बायोग्राफी के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं। Sanket Mahadev Sargar Biography in Hindi, Family, Career, Award & Achievements आदि के बारे में जानने के लिए आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

संकेत महादेव सरगर चर्चा क्यों बने है – वह एक भारतीय भारोत्तोलन एथलीट हैं, जिन्होंने इंग्लैंड के बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत के लिए पहला पदक दिलाया है। उन्होंने भारत को पुरुषों की 55 kg वाली भारोत्तोलन स्पर्धा में रजत पदक दिलाया है।

तो आइए दोस्तों जानते है आज के लेख में संकेत महादेव सरगर की जीवनी के बारे में ओर अधिक विस्तार से – Sanket Mahadev Sargar Biography In Hindi

Sanket Mahadev Sargar Biography In Hindi | संकेत महादेव सरगर की जीवनी

Sanket Mahadev Sargar का जन्म 16 अक्टूबर 2000 को महाराष्ट्र में हुआ था। उनके पिता एक चाय व पान की दुकान चलाते है ओर संकेत अपने पिता के इस छोटे से व्यवसाय में उनका साथ दिया करता था।

21 वर्षीय संकेत सरगर की पढ़ाई महाराष्ट्र की कोल्हापुर की Shivaji University से हुई है ओर वह इतिहास के छात्र रहें है।

Sanket Mahadev Sargar Biography

Full nameSanket Mahadev Sargar
Age21 साल (2022)
Birth Date16 October 2000
Birth Placeसांगली, Maharashtra, India
Height5 फीट 4 इंच
Weight55 किलो
Marital Statusअविवाहित
Educationशिवाजी यूनिवर्सिटी, कोल्हापुर
Professionवेटलिफ्टर
Coachमयूर सिंहसाने & विजय शर्मा
Religionहिंदू
Nationalityभारतीय
यह भी पढ़ें -  Gender Changed For Love in Rajasthan : प्यार पाने के लिए मीरा बन गई आरव, अब हो गई शादी ?

Sanket Mahadev Sargar Career

Sanket Mahadev Sargar साल 2013 से वेटलिफ्टिंग कर रहे हैं वहीं 2017 से उन्होंने कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए तैयारी शुरू कर दी थी। वह रोजाना 7 से 8 घंटे अभ्यास करते थे। फिर सांकेत का Selection National Camp में हो गया। इसके बाद उन्होंने मुख्य Coach Vijay Sharma के नेतृत्व में तैयारी की थी।

पिछले साल हुए World Championship में भी संकेत महादेव सरगर Silver मेडल जीत चुके है। इसके अलावा उन्होंने ताशकंद, उज्बेकिस्तान में हुई Commonwealth Senior Championships 2021 में स्वर्ण पदक जीत चुके है।

वह साल 2020 में हुए खेलो इंडिया यूथ गेम्स और खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स में चैंपियन भी रहे है। उनके पास पुरुषों के 55 kg भारवर्ग में 256kg का राष्ट्रीय और राष्ट्रमंडल रिकॉर्ड है।

इस बार भी बर्मिंघम 2022 Commonwealth Games में संकेत महादेव सरगर से गोल्ड की पूरी उम्मीद जताई जा रही थी।

लेकिन Final Weight उठाने के दौरान उनके हाथ में Injury हो गई। लेकिन इसके बावजूद संकेत ने Sanket ने SilverMedal जीतकर देश का सर गर्व से ऊंचा कर दिया।

Birmingham Cwg2022 में Sanket Mahadev Sargar ने वेटलिफ्टिंग इवेंट में कुल (113 किग्रा + 135 किग्रा = 248 किलो) उठाकर दूसरा स्थान हासिल किया, जबकि मलेशिया के Bin Kasdan Mohammed Aniq ने Gold जीतने के लिए (107 किग्रा + 142 किग्रा = 249 किग्रा) उठाया।

संकेत सरगर सिर्फ 1 KG के अंतर से मलेशिया का वेटलिफ्टर से गोल्ड मेडल जीतने से चूक गए।

Sanket Mahadev Sargar Family

संकेत महादेव सरगर का परिवार – संकेत के पिता महाराष्ट्र में शहर सांगली में एक चाय ओर पान की एक छोटी सी दुकान चलाते है। उनका नाम Mahadev Sargar है।

यह भी पढ़ें -  Jeremy Lalrinnunga Biography - जानिए कौन है वेटलिफ्टिंग में गोल्ड मेडल विजेता
Sanket Mahadev Sargar
संकेत सरगर के माता पिता

संकेत सरगर के 2 भाई और एक बहन हैं। उनकी छोटी बहन भी Khelo India Games में महाराष्ट्र के लिए Gold Medal जीत चुकी है। वह भी एक वेटलिफ्टर है व उसका नाम काजल है, इनके परिवार में Weightlifting को लेकर सकारात्मक माहौल है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!