Vishwakarma Puja 2022 : जानिए भगवान विश्वकर्मा पूजा कब है ?

Vishwakarma Puja 2022: विश्वकर्मा पूजा पर अस्त्र शस्त्रों को बनाने वाले भगवान विश्वकर्मा की पूजा की जाती है। इस पर्व को हिंदू धर्म में विशेष माना गया है, भगवान विश्वकर्मा को स्वयंभू और दुनिया का निर्माता माना जाता है।

उन्होंने द्वारका के पवित्र शहर का निर्माण किया जहां कृष्ण ने शासन किया, पांडवों के लिए इंद्रप्रस्थ का महल, और देवताओं के लिए कई शानदार हथियारों का निर्माता था। बताया जाता है कि इस दिन को श्रद्धा पूर्वक विश्वकर्मा भगवान की पूजा अर्चना करने से व्यापार व नौकरी में तरक्की मिलती है।

vishwakarma-puja-2022
vishwakarma Puja 2022

विश्वकर्मा भगवान को दुनिया भर में अस्त्रशस्त्र बनाने वाले देवता के रूप में पूजा जाता है। और इस दिन सभी लोग अपने घर में मौजूद औजारों को साफ-सुथरा करके उनकी पूजा अर्चना करते है। वहीं कुछ स्थानों पर तो इस दिन को भगवान विश्वकर्मा की मूर्ति स्थापित करके बड़ी धूमधाम से पूजा अर्चना की जाती है।

ऐसी मान्यता बताई जाती है कि यदि इस दिन कोई विश्वकर्मा भगवान के साथ साथ भगवान विष्णु की भी पूजा करें, तो उसे विशेष फल की प्राप्ति हो सकती हैं। कई जगहों पर इस दिन सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किया जाता है।

अगर दोस्तों आप Vishwakarma Puja 2022 Date & Time जानना चाहते हैं, तो आज का हमारा लेख अंत तक जरूर पढ़े। यह सब जानकारी आज के लेख में बताई जायेगी।

Vishwakarma Puja 2022 Date & Time India

  • इस साल 2022 में भगवान विश्वकर्मा की पूजा शनिवार को यानी की 17 सितंबर 2022 के दिन की जायेगी।
  • भगवान विश्वकर्मा की पूजा करने का शुभ मुहूर्त है:- 17 सितंबर 2022 को सुबह 7 बजकर 36 मिनट से रात 9 बजकर 30 मिनट तक है।

अभिजीत मुहूर्त:- सुबह 11 बजकर 51 मिनट से दोपहर 12 बजकर 40 मिनट तक है।

(अभिजीत मुहूर्त क्या होता है – मान्यताओं अनुसार हर दिन का कुछ समय बहुत ही शुभ माना जाता है। उसे ही अभिजीत मुहूर्त कहते है। यह समय मध्य से पहले और बाद में 2 घड़ी अर्थात 48 मिनट का होता है)

पंडितों के अनुसार इस साल भगवान विश्वकर्मा की पूजा के दिन कन्या संक्रांति भी पड़ रही है। वहीं कन्या राशि के जातक यदि आप इस दिन भगवान विश्वकर्मा पूजा के साथ-साथ सूर्य देवता की पूजा करें, तो आपको विशेष फल प्राप्ति हो सकती है।

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment