Har Ghar Tiranga Rules : हर घर तिरंगा झंडा फहराने से जुड़े नियम, इन्हें जान लें?

Har Ghar Tiranga Rules: राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा हर भारतीय के लिए गौरव का प्रतीक है यह राष्ट्रीय अखंडता का प्रतिनिधित्व करता है और भारतीय लोगों की आशाओं और आकांक्षाओं का प्रतीक है।

भारत इस साल 15 अगस्त 2023 को अपना 77वां स्वतंत्रता दिवस मनाने जा रहा है. पिछले वर्ष की भांति इस वर्ष भी भारत सरकार ने लोगों से Har Ghar Tiranga Abhiyan में हिस्सा लेने का आग्रह किया है।

हर घर तिरंगा अभियान के तहत प्रधानमंत्री मोदी जी ने देश के सभी नागरिकों को अपने घरों की छत, बालकनी या अपने कार्यालय में राष्ट्रीय ध्वज फहराने की अपील की है. साथ ही साथ तिरंगे के साथ एक तस्वीर भी शेयर करनी की अपील की है।

Har ghar tiranga rules

Har Ghar Tiranga Abhiyan 2023 कब से कब तक रहेगा…

प्रधानमंत्री मोदी जी ने ट्विट कर बताया की आजादी के इस अमृत महोत्सव में “Har Ghar Tiranga” अभियान ने एक नई ऊर्जा भरी है. इस अभियान को इस साल नई ऊंचाइयों पर ले जाना है।

इस साल 13 से 15 अगस्त 2023 के बीच देश की आन-बान ओर शान के प्रतीक राष्ट्रीय ध्वज को सम्मान के साथ फहराएं और ‘हर घर तिरंगा’ ऑफिशियल वेबसाइट पर तिरंगे के साथ सेल्फी अपलोड कर इस अभियान का हिस्सा बने।

Har ghar tiranga selfie movement 2023

• Har Ghar Tiranga अभियान के तहत 13 से 15 अगस्त 2023 तक अपने घर पर झंडा फहराएं!

• अपने तिरंगे झंडे के साथ सोशल मीडिया प्लेटफार्म और हर घर तिरंगा आधाकारिक वेब साइट पर अपनी सेल्फी अपलोड करें:- Https://Harghartiranga.Com

‘हर घर तिरंगा अभियान में हिस्सा ले रहे, प्रत्येक नागरिक को भारत सरकार द्वारा अपने निवास स्थान या कार्यलय पर तिरंगा फहराने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। इसके साथ ही साथ आपकी भी जिम्मेदारी बन जाती है की आप राष्ट्रीय ध्वज को ससम्मान फहराएं और ध्वज से संबंधित सभी दिशानिर्देशों का पालन करें।

अन्यथा आप मुसीबत में पड़ सकते है जैसे कैसे तिरंगे झंडे को ससम्मान फहराएं और यदि झंडा काट फट गया है या तिरंगे का रंग फीका पड़ गया है तो क्या करें।

ये सभी जानकारी के लिए पढ़िए हमारा आज का लेख – Har Ghar Tiranga Rules in Hindi | हर घर तिरंगा नियम इन हिंदी…

Har Ghar Tiranga Rules | हर घर तिरंगा के नियम

• भारत का कोई भी नागरिक, निजी संगठन या शैक्षणिक संस्थान भारतीय ध्वज संहिता अनुसार राष्ट्रीय ध्वज की गरिमा और सम्मान के अनुसार सभी दिनों या अवसरों पर राष्ट्रीय ध्वज फहरा सकता है।

• भारतीय ध्वज संहिता नियमों के अनुसार, राष्ट्रीय ध्वज को जिन सामग्रियों से बनाने की अनुमति है, वे कुछ इस प्रकार है:- कपास, पॉलिएस्टर, ऊन, रेशम, खादी – चाहे तिरंगा हाथ से काता गया हो या मशीन से बनाया गया हो, आप झंडा फहराया सकते है। (आप भी इन्ही सामग्रियों से बने झंडे का उपयोग करें)

• आकार की दृष्टि से राष्ट्रीय ध्वज आयताकार होना चाहिए ये किसी भी आकार का हो सकता है लेकिन झंडे की लंबाई – ऊंचाई का अनुपात 3:2 होना चाहिए।

• राष्ट्रीय ध्वज को जनता के किसी सदस्य के घर पर खुले में प्रदर्शित किया जा सकता है और इसे जुलाई, 2022 के संशोधन के अनुसार दिन और रात फहराया जा सकता है। लेकिन तिरंगे के पास प्रकाश की व्यवस्था की जानी चाहिए।

• जब आप राष्ट्रीय ध्वज प्रदर्शित करें तो वह सम्मानजनक स्थिति में होना चाहिए और दिखाई देना चाहिए। गंदा या कटा-फटा झंडा नहीं फहराना चाहिए।

• अगर झंडे का रंग भी फीका पड़ गया है तो भी इसे नहीं फहराएं।

• जिस खंभे या पोल पर झंडा फहराया है, याद रखें उस पर किसी तरह का विज्ञापन ना हो।

• ये जरूर सुनिश्चित करें कि झंडा सही तरीके से फहराया गया है और ध्वज उल्टा तो नहीं है, यानी झंडे की भगवा पट्टी नीचे नहीं होनी चाहिए।

तिरंगा झंडा उतारने के नियम (Har Ghar Tiranga Rules)

• सबसे पहले राष्ट्रीय ध्वज को अपने घर की छत या अन्य जगह से बड़े ही सावधानीपूर्वक उतारे।

• इसके बाद झंडे को उतारकर साफ सुथरी यानी की किसी अच्छी जगह हॉरिजेंटल यानी की आड़ा रखें।

• अब ध्वज की केसरिया ओर हरे रंग की पट्टी को कुछ ऐसे मोड़ें कि बीच में सफेद रंग और अशोक चक्र आये।

• इसके बाद ध्वज की सफेद पट्टी को ऐसे मोड़ें कि केसरिया ओर हरे रंग की धारियों के साथ केवल अशोक चक्र दिखाई दे।

• अब मुड़े हुए झंडे को एक सम्मानजनक जगह पर रखने के लिए अपने दोनों हाथों का इस्तेमाल करें। इसें ऐसी जगह न रखें, जहां इसे नुकसान पहुंचे या यह गंदा हो जाए।

आप नीचे दिए गए एक तस्वीर देख सकते है जिसमें Rashtriya Dhwaj Utarane Ke Niyam के बारे में बताया गया है।

Har Ghar Tiranga Rules

Har Ghar Tiranga Rules (झंडा उतारने का नियम)

हर घर तिरंगा अभियान के बाद झंडे का क्या करें?

15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर झंडों की खूब बिक्री होती है। लेकिन 15 अगस्त का दिन बीतते ही कई लोग झंडे को यूहीं छोड़ या फेंक देते हैं। जगह-जगह सड़कों पर और कई कूड़े के ढेर में ये देखे जा सकते हैं।

अगर आप भी ऐसा करते तो आप राष्ट्रीय ध्वज का अपमान कर रहें है। आप मुसीबत में पड़ सकते है। तिरंगे का उपयोग करने के बाद या किसी प्रकार क्षति हो जाने के बाद आप 2 तरह से तिरंगा को डिस्पोज यानी समाप्त कर सकते हैं।

पहला दफन करें : झंडे को एक लकड़ी के बॉक्स में स- सम्मान के साथ रखें और साफ सुथरी जगह पर जमीन में इस बॉक्स को दफन कर पास में 2 मिनट तक मौन में खड़ें रहें…

आग के हवाले करें : एक साफ जगह एकांत में कपड़ों की या लकड़ियों की परत के साथ गरिमापूर्ण तरीके के साथ जलाएं। तिरंगे को बिना किसी अन्य परत के जलाना कानूनी अपराध है।

नोट: ध्यान रहे दोस्तों तिरंगे झंडे को तभी जलायां जा सकता हैं जब वह पूरी तरह से खराब हो या पूरी तरह कट-फट गया हो।

अगर कोई तिरंगे झंडे का अपमान करें, तो उसके लिए सजा क्या है?

भारतीय तिरंगे झंडे का अपमान करना एक अपराध है। अगर कोई भी व्यक्ति तिरंगे झंडे को सार्वजनिक जगह पर जलाता है उसे गंदा करता है, कुचलता है या फिर नियम के खिलाफ जाकर ध्वजारोहण करता पाया जाता है, तो उसे 3 साल की जेल या जुर्माने की सजा हो सकती है या दोनों सजाएं हो सकती है।

यह भी पढ़ें:- जानिए भारतीय संविधान के बारे में रोचक तथ्य

यह भी जानिए भारतीय राष्ट्रीय ध्वज के बारें में…

सवाल : बहुत सारे लोग तिरंगे झंडे को घर के दूसरे काम में इस्तेमाल करने का मन बना रहे हैं, क्या ये सही है ?

जवाब : बिल्कुल नहीं। Flag Code Of India के अनुसार, आप किसी भी दूसरे उद्देश्य से भारतीय तिरंगे झंडे का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं जैसे की-

आपको तिरंग झंडेे का इस्तेमाल नीचे बताए गए चीजों के लिए किसी भी हालात में नहीं करना चाहिए।

  • तिरंगे झंडे को पर्दों के तौर पर इस्तेमाल ना करें
  • टेबल या मेज को ढंकने के लिए इस्तेमाल ना करें
  • ध्वज को किसी गाड़ी, ट्रेन या फिर किसी नाव के ना लपेटे
  • आपको कभी भी झंडे पर कोई दूसरी फोटो या कोई पेंटिंग नहीं बनानी चाहिए।
  • आपको कभी भी फटा हुआ या मैला तिरंगा झंडा नहीं फहराना चाहिए।
  • याद रखें की जिस जगह तिरंगा झंडा फहराया जा रहा है, वहां कोई दूसरा झंडा तिरंगे झंडे से ऊपर नहीं होना चाहिए। सबसे ऊपर तिरंगा झंडा होना चाहिए।
WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

3 thoughts on “Har Ghar Tiranga Rules : हर घर तिरंगा झंडा फहराने से जुड़े नियम, इन्हें जान लें?”

Leave a Comment